Tuesday, 7 August 2018

प्याज के गुण, फायदे व प्याज के रस के लाभ (Benefit of Onion )

Pyaj
प्याज़

प्याज का परिचय


प्याज के फायदे व प्याज़ के रस के बारे मे सभी लोग जानते है। प्याज व प्याज के रस के अनेक फायदे है । इसमेें अनेक पौशक तत्व पाये  जाते हैं, जो कि शरीर के लिये आवश्यक होते है ।

प्याज़ औषधीय कार्यो के लिए सदियों इस्तेमाल होता आ रहा है । रंग के आधार पर  प्याज की लाल व सफेद दो जातिया पाई जाती हैं । पूरे भारत वर्ष मे प्याज़ का सब्जी में इस्तेमाल किया जाता है । इसमें प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट्स, केल्शियम, आयरन व विटामिन A, B, तथा C पाये जाते हैं । इसमें एक तेल भी पाया जाता है, जिसमें एलाइड, डाइसल्फाइड, प्रोपाइल आदि तत्व पाये जाते हैं । 


इसका वैज्ञानिक नाम allium sepa L.h  he अंग्रेजी में इसे Onion कहते है । भारत मे अलग अलग स्टेट में अलग अलग नामो से जाना जाता है । जैसे :- पंजाबी में गंडा, गुजराती में कांदो, मराठी मे कोंन्दा, बंगाली मे पेंचाज व तेलगु मे निरूलि कहते हैं ।



प्याज़
Pyaj



प्याज के फायदे व गुण ( pyaj ke fayde):



यह पचने मे भारी, चरपरा, संवाद में मीठा थोड़ा कड़वा, होता है, ये स्वादिष्ट, वातनाशक बलवर्धक, होता है । लाल प्याज ठंडा पित्तनाशक, व अत्यन्त  निद्रकारक होता है । प्याज के बीज दाँत कृमि, व प्रमेह का नाश करते हैं । प्याज अनेक रोगों मे काम आता है जैसे :- कफ रोग, नजला, रतोंधी, दांत के दर्द, कान की सूजन, पेट मे दर्द, अफारा, पथरी, अर्श, काम शक्ति आदि ,प्यास मूत्र की  जलन को  भी शांत करता है । यह इम्युनिटी को बढ़ता है । इसका रस बालो के लिए भी उपयोगी है, यह सिर पर लगाने  से बाल  नही झड़ते ।


1. पेट के रोग में प्याज व इसके रस के लाभ (Pyaj ke ras ke labh):


  • प्याज का सेवन करने से भूख बढ़ जाती है लिवर मजबूत होता है । पित्त कंट्रोल होता है । इससे गैस व अफारा भी दूर होता है जिससे पेट के अनेक रोगों मे लाभ मिलता है । 
  • पित्त (acidity) की समस्या होने पर एक प्याज भून कर उसका रस निकाल लें, इस रस मे एक ग्राम नमक मिला कर पीने से अम्ल पित मे लाभ होता है ।
  • इसका का रस  20 मिलीग्राम व 125 मिलीग्राम हींग व 1 ग्राम काल नामक मिला कर दिन मे तीन बार देने से बादी व अफारा खत्म हो जाता है ।
  • कच्चा प्याज खाने या इसका रस पीने से आंतों की क्रियाशीलता बड़ जाती है ,पाचन ठीक से होता है । व पेट अच्छी तरह से साफ हो जाता है ।
  • इसके रस की एक चम्मच मात्रा 2-2 घंटे बाद देने से पेट के कीड़े मार जाते हैं । बच्चों को इसकी आधा चम्मच मात्रा काफी होती है ।
  • प्याज के रस में शहद मिला कर देने से पेट के छोटे कृमि मर जाते 


2. बाल झड़ने की समस्या में प्याज के फायदे ( Pyaj ke Fayde ):



प्याज के रस का प्रयोग करने से बाल झड़ने की समस्या से राहत मिल जाती है । इसके निम्न प्रयोग है 

  • जिस जगह बाल झड़ें हो उस जगह पर काटा हुआ प्याज का टुकड़ा रगड़ने से बाल उग जाते हैं ।
  • प्याज के रस को शहद मे मिला कर सिर ( जहां बाल झड़ें हों ) मे लगाने से  बाल झड़ना रुक जाते हैं। व नये बाल फिर से उगना शुरू हो जाते है
  • अगर दाद के कारण बाल झड़ गये हो तो इसके लिए प्याज के रस मे पिसा काली मिर्च व थोड़ा नामक मिलाकर मालिश की जाती है ।


प्याज़
प्याज़



3. कान के दर्द व सूजन में प्याज के उपयोग ( Pyaj ke upyog ):



  • प्याज के स्वारस को गर्म करके कान मे 2 से 3 बूंदे डालने से कान के दर्द मे आराम मिलता है ।
  • प्याज के रस मे अलसी को पकाकर  छान कर इसकी 4 से 8 बूंदें कान मे डालने से कान की सूजन खत्म हो जाती है ।
  • सफेद प्याज को आग में दबाकर भुन जाने पर इसका रस निकाल कर कान में 2-2 बूंद डालने से कान मे मवाद आना बंद हो जाता है ।
  • कान मे अधिक तेज दर्द होने पर प्याज के रस में जरा सी अफीम मिलाकर कान मे डालने से कान का भयंकर दर्द ठीक हो जाता है ।


4. कफ रोग व दमा में प्याज के रस के लाभ ( Pyaj ke ras ke labh ):


  • छोटे बच्चों को जब कफ हो जाए तो प्याज के 5 से 10 मिली ग्राम रस मे शक्कर मिला कर बच्चों को देने से कफ ठीक हो जाता है ।
  • अगर शिशुओं की माताओं को एक नाग प्याज पानी में उबाल कर दिया जाये तो कफ रोग मे लाभ होता है ।कफ पतला होकर निकाल जाता है । अगर शरीर मे पित्त हो तो वह भी बाहर निकाल जाता है ।
  • प्याज का काड़ा बनाकर इसकी 50 से 60 ग्राम मात्रा सुबह शाम पिलाने से दमा मे लाभ मिलता है ।

5. आंखों में प्याज का रस के लाभ (pyaj ke Ras ke Labh ):


  • प्याज को दबाकर निकाले रस मे थोड़ा सा नमक मिलाकर आंखों मे लगाने से रतोंधी मे लाभ होता है ।
  • सफेद प्याज के रस 10 मिलीग्राम व अदरक का रस 10 मिलीग्राम, शहद 50 मिलीग्राम, इन सभी को मिला कर  रोज 2-2 बूंद आंखों मे डालने से मोतियाबिंद ठीक हो जाता है । यह नुस्का स्वामी रामदेव जी द्वारा स्वानुभूत प्रयोग है ।


6. सिर की रूसी में प्याज़ के फायदे ( Pyaj ke fayde ) :



प्याज का रस निकाल कर पूरे सिर में लगा ले ,जब यह सुख जाए तो सिर धो लें । ये प्रक्रिया लगातार कुछ दिन करने से सिर से रूसी गायब हो जाती है ।


प्याज
Pyaj



7. सिर दर्द में प्याज़ का फायदा ( Pyas Ka Fayda ) :


  • प्याज का पेस्ट बनाकर पैर के तलुओं मे लगाने से सिरदर्द मे आराम मिल जाता है ।
  • लू लगने के कारण सिर दर्द होने पर प्याज को सूंघने भर से सिरदर्द ठीक हो जाता है ।


8. हैजे में प्याज के प्रयोग ( Pyaj ke Prayog ):



  • प्याज के रस में चने का पानी बराबर मात्रा मे मिलाकर रोगी को पिलाने से फायदा होता है । 
  • 250 मिलीग्राम कपूर रोगी के मुह मे डालकर ऊपर से 10 ग्राम प्याज का रस देने से जटिल हैजा भी ठीक हो जाता है ।
  • हैजे के रोगी को प्याज का रस 15-15 मिनट बाद देने से लाभ होता है ।
  • 25 ग्राम प्याज व 6 नाग कालीमिर्च दोनो को मिला कर खरल में पीस लें, फिर इसमे पानी मिलाकर जितना पी सके रोगी को पिलाये । इसमें थोड़ी मिश्री मिला सकते है, इसे  एक बार ही रोगी को देने से लाभ होता है ।




विशेष :



ऊपर बताये रोगों के अलावा प्याज बहुत से रोगों मे काम आता है जैसे- जी मचलाना, पेशाब की रुकावट, पथरी, दस्त, गठिया कुष्ट रोग, त्वचा रोग आदि बहुत से रोगों मे काम आता है । प्यास के रस मे बराबर मात्रा मे घी मिलाकर पीने से शारीरिक शक्ति बढ़ती है । बहुत से लोग प्याज इस लिए नही खाते हैं, क्योंक़ि इसकी गंध अच्छी नही लगती है ।


इसे खाने से बहुत से लाभ है । प्याज खाने से अगर मुह से गंध न जा रही हो तो इसका उपाय है । इसके लिए इलायची व शक्कर खाने से गंध दूर हो जाती है । अगर बर्तन मे प्याज की गंध आ जाये तो बर्तन को नमक के पानी से धो ले, गंध दूर हो जाएगी ।


                           


====================================

No comments: