Sunday, 30 December 2018

मासपेशियों में तनाव व दर्द दूर करने के देसी प्राकृतिक उपाय

मासपेशियों में तनाव व दर्द दूर करने के देसी प्राकृतिक उपाय- muscles pain in hindi



इस लेख में मासपेशियों के दर्द व तनाव दूर करने के देसी प्राकृतिक उपाय के बारे में बता रहें हैं । व्यक्ति के शरीर में जब दर्द की शिकायत होती है तो वह दर्द से तुरंत राहत पाने के लिए बाजार में उपलब्ध एलोपैथिक दवाओं का सहारा लेता है । इन दवाओं से तुरंत राहत तो मिल जाती है लेकिन  पूर्ण रूप से लाभ नहीं मिल पाता है । मासपेशियों में तनाव चोट, चिंता, दुर्घटना अथवा किसी बीमारी के कारण हो सकता है । जानकारों के अनुसार कभी कभी शरीर को अधिक ऑक्सीजन की आवश्यकता होती है । 

इस ऑक्सीजन की पूर्ति के लिए मासपेशियों में एक क्रिया होती है, जिससे शरीर में लैक्टिक एसिड एकत्र हो जाता है, कारण स्वरूप शरीर की मासपेशियों में तनाव व दर्द होने लगता है, जब लैक्टिक एसिड बिखर जाता है तो तनाव व दर्द दूर हो जाता है । लेकिन इस प्रयोग में समय अधिक लगता है ।


                                      
maspeshi me dard
Muscles Pain


मांसपेशियों में दर्द दूर करने के घरेलू नुस्खे - muscles pain home remedies



चिकित्सकों का मानना है कि मासपेशियों में तनाव दर्द दूर करने के लिए जहां तक संभव हो मालिश आदि व प्राकृतिक घरेलू नुस्खों का प्रयोग किया जाय तो उत्तम होगा । इसके अनेक घरेलू प्राकृतिक उपाय नीचे बताए जा रहे हैं ।

Read More :   हल्दी के औषधीय प्रयोग, एवम् फायदे (benefit of termeric)



1. मासपेशियों के तनाव व दर्द में उपयोगी है तेल मालिश - muscles pain in hindi




मालिश करने से मासपेशियों में रक्त परिसंचरण अच्छा होता है व मासपेशियों को गर्मी मिलती है  । इससे शरीर में लैक्टिक एसिड कम होकर दर्द में राहत मिलती है । मालिश करने के लिए सरसों का तेल और अदरक व पिपरमेंट का तेल अच्छा माना जाता है, यह दर्द दूर करने में सहायक है ।



2. सिकाई द्वारा मासपेशियों के तनाव एवम् दर्द का इलाज- muscles pain in hindi




इसे हीट थैरेपी कहा जाता है ।  इसका प्रयोग मासपेशियों में जकड़न व ऐठन में किया जाता है । चिकित्सकों का मानना है कि प्रभावित स्थान पर सिकाई करने से रक्त संचरण अच्छा होता है व मासपेशियों के खीचाव व दर्द में आराम मिलता है । चोट लगी मासपेशियों पर सिकाई करने  दर्द में आराम मिलता है ।




3. नमक के पानी से स्नान से मांसपेशियों का तनाव व दर्द दूर होता है - muscles pain in hindi




पानी में नमक मिलाकर स्नान करने से शरीर की सूजन काम हो कर दर्द में आराम मिलता है । इस प्रयोग को करने के लिए अपने जरूरत के अनुसार टब लेकर उसे नहाने लायक गरम पानी से भरे, इसमें एक कप नमक मिलाकर इस पानी में 20 से 25 मिनट तक बैठ जाए व इसी पानी से स्नान करें, इस प्रयोग से मासपेशियों के दर्द व तनाव में आराम मिलता है व ऐठन दूर हो जाती है ।



4. मासपेशियों पर बर्फ की सिकाई से मांसपेशियों के ऐठन व दर्द दूर होती है - muscles pain in hindi 




मासपेशियों का तनाव अथवा खीचाव दूर करने का ये उत्तम प्रयोग है । जहा पर चोट लगी हो उस स्थान पर बर्फ की सिकाई करते हैं । इस प्रक्रिया को कोल्ड थेरैपी या क्रियो थेरैपी कहते हैं । इसका प्रयोग भाग दौड़ या खेल कूद में लगी चोट को राहत पहुंचाने के लिए किया जाता है ।

Read More :   आक (मदार) के फायदे व 12 रोगों के उपचार (benefit of Madar)



5. गरम व ठंडे पानी से स्नान मासपेशियों के तनाव से राहत दिलाता है 




गरम व ठंडे पानी का स्नान बारी बारी करने से से मासपेशियों के दर्द व तनाव में तुरंत राहत मिलती है । इस प्रयोग से पूरे शरीर को आराम मिलता है । चिकित्सकों का मानना है कि इस विधि से रक्त संचार बहू अच्छा हो जाता है व दर्द में आराम बहुत जल्दी मिलता है ।



6. जड़ी बूटी व हर्बल लेप द्वारा मासपेशियों के खीचाव व दर्द के उपचार --muscles pain in hidi



कुछ जड़ी बूटियों में दर्द निवारक का गुण होता है, इस तरह के लेप बाजार में उपलब्ध होते है, इनको दर्द वाले स्थान पर लगाने से दर्द में आराम मिल जाता है । हर्बल लेप जेल, बाम, अर्क व अर्ध ठोस रूप में मिलते है । ये पदार्थ त्वचा के अंदर जाकर  मासपेशियों के खीचाव में राहत दिलाते है व ऐठन भी नहीं रहती है ।



7. लालमिर्च का पेस्ट उपयोगी है मासपेशियों के तनाव में




ललमिर्च में एक ऐसा तत्व पाया जाता है जो मासपेशियों की जकड़न व दर्द से राहत पहुंचाता है । चिकित्सक दर्द में इस पेस्ट को लगाने की सलाह देते हैं । इस प्रयोग को करने के लिए आधा चम्मच मिर्च को नारियल तेल अथवा जैतून के तेल में मिला कर इस पेस्ट को प्रभावित स्थान पर लगाने से दर्द दूर हो जाता है । यह एक अच्छा प्रयोग है और फायदा भी होता है, लेकिन इस प्रयोग को करने से पूर्व किसी चिकित्सक की सलाह अवश्य ले लें ।



8. शरीर में मैग्नीशियम की पूर्ति से मासपेशियों के दर्द का इलाज-muscles pain in hindi




अन्य तत्वों की तरह मैग्नीशियम भी शरीर के लिए जरूरी तत्व है । शरीर में गाग्निशियम की कमी होने पर मासपेशियों में दर्द व ऐठन होने लगती है । इस लिए मैग्नीशियम की पूर्ति करना आवश्यक है । उन खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाय जिनमें मैग्नीशियम प्रचुर मात्रा में पाया जाता हो । मैग्नीशियम  की प्रचुरता वाले खाद्य पदार्थ हैं , गुड, कद्दू के बीज, अलसी के बीज, सूरज मुखी के बीज, पालक, तिल, बदाम, काजू आदि । इन खाद्य पदार्थो का सेवन करने से मासपेशियों तनाव, खीचाव, ऐठन व दर्द दूर हो जाता है ।


~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

No comments: