Godesihealth is related to desi nuskhe and treatment and benefits with tree, plants and herbs in hindi.

चुनिंदा पोस्ट

हरसिंगार से गठिया का इलाज और 12 फायदे एवम् उपयोग

    पारिजात ( हरसिंगार)  के फायदे एवम् उपयोग   पारिजात को हरसिंगार के भी नाम से जाना जाता है । इसके फूल अत्यन्त सुगंधित और आकर्षक होते हैं। ...

14 दिसंबर 2019

चाय पीने के फायदे और नुकसान ( chai pine ke fayde aur nuksan)

चाय पीने के फायदे - chai peene ke fayde


बहुत से लोग खाने साथ चाय पीते हैं, शायद आप भी ऐसा करते हैं । कुछ रिसर्च में सामने आया है कि चाय पीने के फायदे होते है, बॉडी के पाचन के लिए अच्छा होता है और कुछ का मानना ​​है कि चाय में जो कैफिन होता है, वह पौष्टिकता सोखने में बाधा उत्पन्न करता है। रिसर्चर व जानकार चाय को बॉडी के लिए नुकसान दायक बताते हैं।



चाय पीने के फायदे - chai peene ke fayde अनेक हैं । चाय में एंटीजेन उपस्थित होते हैं जो एंटी-बैक्टीरियल क्षमता बनाए रखते हैं । चाय में कैफीन तथा टैनिन होते हैं जिससे शरीर में फुर्ती का बनी रहती है । इसमें उपस्थित एंटी-ऑक्सीडेंट्स इम्यून सिस्टम को मजबूत रखता है और कई बीमारियों से रक्षा करता है ।


chai ke fayde






चाय में उपस्थित अमीनो एसिड दिमाग को ज्यादा चुस्त एवम् शांत रखता है। कई रिसर्च में यह कहा गया है कि चाय कैंसर,  कॉलेस्ट्रॉल लेवल, एलर्जी, लिवर और दिल की बीमारियों में फायदेमंद  है । चाय बुढ़ापे आने को भी कम करती है और शरीर को उम्र के कारण होने वाले नुकसान से रक्षा करती है ।


Table of contents:


अदरक चाय पीने के फायदे


अदरक चाय का सेवन सर्दी और इससे होने वाले रोगों से रक्षा करती है। क्योंकि अदरक की तासीर गर्म होती है, यह शरीर में गर्मी पहुंचाती है, और साथ ही यह आलस्य को भी दूर करती है।


यह शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी मजबूत करती है, जिसके कारण भी सर्दी में होने वाले रोगों से बचा जा सकता हैं। सर्दी के कारण होने वाले सिरदर्द के लिए अदरक की चाय पीना एक असरकारक उपचार है।


अदरक चाय का सेवन सर्दी, जुकाम जैसी होने वाली बीमारियों से रक्षा करती है। क्यूकी अदरक की तासीर गर्म होती है, यह शरीर को गर्मी पहुंचाती है, साथ ही आलस्य को भी दूर  है। यह शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाती है, सर्दी के कारण होने वाले सिरदर्द के लिए अदरक की चाय एक रामबाण उपचार है।


यदि भूख नहीं लगती हो तो अदरक वाली चाय पीना आपके लिए फायदेमंद है। अदरक भूख बढ़ाने में सहायक होती है। नियमित रूप से इसका सेवन भूख लगने और पाचन को बढ़ाने में सहायता करता है।


चाय पीने के नुुक़सान ( chai peene ke nuksan)



जानकारी के मुताबिक कई अध्ययनों से साबित हुआ है कि चाय में मौजूद फेनोलिक नाम का तत्व आयरन को सोखने में बाधा उत्पन्न करता है। इसलिए इस बात की सलाह दी जाती है कि अगर कोई आयरनयुक्त खाद या विटामिन 'सी' रिच फूड ले रहा है तो उसके दौरान चाय पीने से आयरन एबसोब्शन में बाधा उत्पन्न होगी। जिन लोगों के बॉडी में आयरन की कमी है उनके खाने के दौरान चाय पीने से व भी परेशानी होगी क्योंकि चाय में मौजूद टेनन आयरन के अवशोषण में बाधा पैदा होती है।



इसी के साथ चाय की पत्ती में कुछ ऐसे तत्व मौजूद होते हैं जो कि खाने के प्रोटीन के साथ मिलते हैं तो प्रोटीन कठोर हो जाता है और उससे पाचन में कठिनाई आती है। इसी के साथ ही चाय पीने के समान भी कई नुकसान होते हैं, चाय में कैफीन की मात्रा होती है जिससे ब्लड प्रेशर होने की समस्या बढ़ जाती है । चाय पीने का सबसे महत्वपूर्ण नुकसान यह है कि इससे अधिकतर गैस्ट्रिक अल्सर बनने की संभावना रहती है। 

यह भी पढ़े : 

इमली खाने के फायदे जानकर दंग रहे जाएंगे ( Imli khane ke fayde)


चाय पीने का एक और नुकसान यह होता है कि चाय में टैनिकएसिड होता है। जब व्यक्ति चाय पीता है तो उस समय टेनिक एसिड की अधिकतम मात्रा होती है जिस कारण आयरन की कमी और एनीमिया की समस्या हो सकती है। इस लिए यह सलाह दी जाती है कि भोजन खाने के लगभग एक घंटे के बाद चाय का सेवन करना चाहिए।


आमतौर पर ब्लैक टी को फायदेमंद माना जाता है लेकिन बहुत अधिक मात्रा में ब्लैक टी पीना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है । माना जाता है कि ब्लैक टी पीने से वजन कम होता है । लेकिन ऐसा नहीं है, ब्लैक टी पीने से पेट फूल जाता है और जिस कारण भूख नहीं लगती है ।


आमतौर पर लोग दूध वाली चाय पीना ज्यदा पसंद करते हैं. पर यह बात बहुत ही कम लोग जानते हैं कि खाली पेट दूध वाली चाय पीने से जल्दी थकावट महसूस होती है. साथ ही व्यक्ति व्यवहार में भी चिड़चिड़ा हो जाता है । ज्यादा स्ट्रांग चाय पीने वालों को अल्सर होने का खतरा ज्यादा रहता है, इससे पेट की अंदरुनी सतह में जख्म हो जाने का खतरा बढ़ जाता है ।

कई लोग एक ही बार ज्यादा चाय बना लेते हैं और उसे बार-बार गर्म करके पीते रहते हैं. बार-बार गर्म करके चाय पीना खतरनाक हो सकता है । ऐसा करने से बचना चाहिए ।


खाली पेट चाय पीने के नुक़सान


कुछ अध्ययनों में पाया गया है कि खाली पेट चाय पीना एक  बुरी आदत है, विशेषकर गर्मियों में । चाय में कुछ मात्रा में कैफीन होती है और साथ ही इसमें एल-थायनिन, थियोफाइलिन तत्व भी होता है जो कि उत्तेजना करने वाला होता हैं ।


यह भी पढ़े : बेल के उपयोग, फायदे एवम् औेषधीय गुण


सुबह उठकर कुछ हल्का-फुल्का खाने के बाद चाय ले सकते हैं. इसके अलावा अगर आप बहुत अधिक चाय पीते हैं तो यह बहुत ही नुक़सान दायक हो सकता है । इससे पेट के अंदर की सतह को नुकसान हो सकता है ।



चाय को सीमित मात्रा में सही तरीके से पिया जाए तो चाय पीने के अनेक फायदे - chai peene ke fayde होते हैं ।

___________________________

संबंधित पोस्ट :-










_________________________